गुरुवार, 3 मार्च 2011

बरबीघा के पंचवदन स्थान मंदिर में लगे मेला मेरे कैमरे की नजर से....... यहां स्थापित पंचमुखी शिवलिंग प्रसिद्ध है...



जलभिषेक की मारमारी

 खिलौना बेचने की मजबूरी


खिलौने बाली मॉडल..

जलेबी का मजा



श्रृंगार की दुकान

वृक्ष की पूजा

अरे ये तो छूट ही गए जल चढ़ दूं

बुढ़ी माता भगवान के दरवार में

चंदन जरा घीस लू....

हरे रामा हरे कृष्णा...

गांव की मिठाई...झिल्ली

बच्ची बेच रही गुपचुप यानी पानीपुड़ी..



2 टिप्‍पणियां:

  1. मेले की अच्छी तसवीरें खींची आपने .....

    उत्तर देंहटाएं
  2. Arunji
    Bada achcha lekh aur vividhtapurn tasveeron mein
    aapke bheetar kee rachnatmakta aur nishtha ke darsan huye. prasannta huee
    shubhkaamnaon sahit

    उत्तर देंहटाएं